Who is the Legend of Kannada Film Industry : कन्नड़ सिनेमा, भारत का सुप्रसिद्ध सिनेमा उंद्योग है जिसमे भारत को एक से बढ़कर एक अभिनेता दिए है | आज हम आपको बताने जा रहे है कन्नड़ फिल्म उद्योग के दिग्गज अभिनेता पुनीत राजकुमार के बारे में साथ ही साथ इस लेख में हम ये कन्नड़ फिल्म उद्योग ८ और दिग्गज के बारे में भी बताएंगे जिहोने कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री को मुकाम तक पहुंचाया हैं। 

Punnet Rajkumar Biography : Legend of Kannada Film Industry

कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री में पुनीत राजकुमार का नाम स्वर्ण अक्षरों में लिखा गया है पुनीत राजकुमार (legend of kannada film industry) कन्नड़ फिल्म के  सर्वश्रेष्ठ अभिनेताओं में से एक हैं वह राजकुमार के बेटे एक अभिनेता और पार्श्वगायक के साथ-साथ टेलिविजन प्रेजेंटर की भूमिका भी निभाई है| 

पुनीत राजकुमार कन्नड़ फिल्म के एकमात्र ऐसे अभिनेता हैं जिनकी हर फिल्म ब्लॉकबस्टर साबित हुई है इसके अलावा राजकुमार ही ऐसे अभिनेता के जिन की फिल्में 90 फ़ीसदी तक ब्लॉकबस्टर साबित हुई थी तो इस मामले में अगर कहा जाए तो पुनीत राजकुमार कन्नड़ फिल्म के सबसे बड़े अभिनेता हैं 

पुनीत राजकुमार ने  सिरप कन्नड़ फिल्म में ही काम किया है उन्होंने एक बाल कलाकार के रूप में अपने अभिनय करियर की शुरुआत करी फिर गायन के क्षेत्र में और बाद में टेलीविजन के माध्यम से अपने कैरियर का विस्तार किया

जहां तक बात उनके कैरियर की तो व्यवसायिक सफलता उन्हें अभी, आकाश, अरासु, मिलान, जैकी, हुद्गुरु और अन्ना बॉन्ड से मिली है

पुनीत राजकुमार कन्नड़ फिल्म उद्योग के सबसे बड़े अभिनेता के रूप में जाने जाते हैं उन्होंने बहुत ही कम समय में वह मुकाम हासिल कर लिया जिस मुकाम को हासिल करने के लिए बड़े से बड़े अभिनेता भी तरस जाते हैं हालांकि उनका जीवन बहुत लंबा नहीं गुजरा और पुनीत का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया

पुनीत राजकुमार मृत्यु (Puneet Rajkumar Death)

कन्नड़ फिल्म के सुपरस्टार पुनीत राजकुमार अब इस दुनिया में नहीं रहे 29 अक्टूबर 2021 को उनका दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया इस निधन की खबर ने ना सिर्फ उनके चाहने वालों को बल्कि भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को भी आहत कर दिया नरेंद्र मोदी जी ने पुनीत के निधन पर दुख जताया और साथ ही उन्होंने एक तस्वीर ट्वीट की जिसमें पुनीत अपने प्रशंसकों के बीच में अप्पू के नाम से जाने जाते हैं

पुनीत राजकुमार की प्रारंभिक जीवन (Puneet Rajkumar Early Life)

चलिए अब हम बात कर लेते हैं पुनीत राजकुमार के प्रारंभिक जीवन की पुनीत राजकुमार का जन्म 17 मार्च 1975 को मद्रास के पास तमिलनाडु में हुआ था वह प्रसिद्ध कन्नड़ अभिनेता राजकुमार और वर्तमान और पर तम्मा राजकुमार के पुत्र हैं जो कि एक फिल्म निर्माता भी थे और वितरक भी थे |  उनके भाई अभिनेता शिवराज कुमार और राधवेंद्र राजकुमार हैं जो फिल्म इंडस्ट्री में ही काम करते हैं

पुनीत के चाहने वाले हैं उन्हें प्यार से अप्पू कह कर बुलाते हैं उन्हें या ना 2002 में एक अभिनेता के तौर पर मिला था जिसमें उनकी पहली फिल्म थी और इसी के नाम पर उन्हें अप्पू के नाम से पुकारा जाता था पुनीत सिर अभिनेता ही नहीं थे अपनी जिंदगी में सादगी और विनम्रता के कारण भी हर किसी का दिल जीत लिया था चंदन का सज्जन भी कहते थे

पुनीत राजकुमार की फिल्में/फिल्में (Puneet Raj kumar Film)

चलिए अब हम बात कर लेते हैं पुनीत राजकुमार के फिल्मों के बारे में पुनीत राजकुमार ने एक से बढ़कर एक अभिनय का एग्जांपल सेट किया है लेकिन इसमें उनकी कुछ फिल्म जो है वह ऐसी है जो आज भी आज भी उनके प्रशंसक बहुत धैर्य से देखते हैं 

पुनीत राजकुमार की चर्चित फिल्मों की बात करें तो इनमें अप्पू, अभि, मौर्य, आकाश, नम्मा बसवा, अजय, अरसु, मिलाना, बिंदास, राज- द शो मैन, राम, पावर, अन्ना बॉन्ड, राजकुमार, अंजनी पुत्र, मायाबाजार 2016 शामिल हैं। प्रसिद्ध फिल्में शामिल हैं। पुनीत अपने पीछे 2 बेटियां छोड़ गए हैं 

चलिए अब हम बात करते हैं कन्नड़ फिल्म के टॉप बेस्ट 8  अभिनेताओं (top 10 best legend of kannada film industry) के बारे में जिन्होंने कन्नड़  पर अमिट छाप छोड़ा है

List of Legend Of Kannada Film Industry

[lwptoc depth=”6″]

1- Dr. Rajkumar (डॉक्टर राजकुमार)

डॉक्टर राजकुमार सिर्फ कन्नड़ फिल्म ही नहीं बल्कि भारतीय सिनेमा के महानायक के तौर पर भी जाने जाते हैं उन्होंने अपने कार्यकाल में 200 से अधिक फिल्मों में अपने अभिनय का दमखम दिखाया है अपने गायन के से भी उन्होंने काफी लोगों को मोहित किया है |  डॉक्टर राजकुमार ने अपने कैरियर की शुरुआत गुम्बी ड्रामा कंपनी की ओर से फिल्म बेदरा कन्नाप्पा से शब्दभेदी तक के बेहतरीन अभिनय के लिए जाने जाते हैं डॉक्टर राजकुमार कन्नड़ उद्योग के सबसे सफल अभिनेताओं में जाने जाते हैं 

उनकी द्वारा अभिनीत टोटल फिल्मों का 90% फिल्में ब्लॉकबस्टर साबित हुई जिनमें  बेदारा कन्नप्पा, कस्तूरी निवास, बंगारदा मानुष्य, ऑपरेशन डायमंड रैकेट, ओंदु मुथिना काठे, संपतिगे सावल और अन्य उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ फिल्में हैं। चंदन में अभी भी डॉ. राजकुमार की जगह नहीं मिली है।

2 Dr. Vishnuvardhan (डॉ विष्णुवर्धन )

कन्नड़ फिल्म उद्योग में एक महान अभिनेता (Legend of Kannada Film Industry) हैं, जिन्होंने विभिन्न भूमिकाएं निभाई हैं और नागरहावु, आप्तरक्षका और कई अन्य फिल्मों में अपना सर्वश्रेष्ठ दिया है। उन्होंने 1972 में फिल्म ‘वंशवृक्ष’ से अपने अभिनय की शुरुआत की और कन्नड़, तमिल, हिंदी और अन्य भाषाओं में अभिनय करने वाले एक बहु-भाषा स्टार बन गए। 

विष्णुवर्धन ने अपने करियर में विभिन्न भाषाओं में 120 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया है। उन्हें कर्नाटक के लोगों द्वारा ‘सहसा सिंह’ कहा जाता था। उनकी मृत्यु के बाद, बैंगलोर में 14.5 लंबी सड़क का नाम उनके नाम पर रखा गया। नागरहावु, गंधदा गुड़ी, बंधन, वीरप्पा नायक, मुथिना हारा, आप्थमित्र, और अन्य उनके करियर की सफल फिल्में हैं।

3- Amrish Chandan (अंबरीश चंदन)

अंबरीश चंदन के रोल मॉडल में से एक हैं, वह एक अभिनेता और एक सफल राजनीतिज्ञ हैं। अंबरीश ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत 1972 में फिल्म ‘नागरहवु’ से एक नकारात्मक भूमिका निभाते हुए की, जिसने फिल्म ‘भाग्य ज्योति’ से मुख्य भूमिका में अपनी शुरुआत की। अंबरीश ने अपने करियर में विभिन्न भाषाओं में 200 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया है। उन्होंने अपने करियर में मुख्य भूमिकाएँ और सहायक भूमिकाएँ दोनों निभाईं। 

उनकी ज्यादातर फिल्में सफल होती हैं। उनके किरदार के लिए उन्हें चंदन में ‘रिबेल स्टार’ कहा गया। अंबरीश चंदन में सुपरस्टार होने के अलावा कर्नाटक में एक सफल राजनेता भी हैं। अंबरीश ने सूचना और प्रसारण मंत्री और कर्नाटक हाउसिंग बोर्ड मंत्रालय के रूप में भी काम किया। अपनी मृत्यु से पहले, उन्होंने फिल्म ‘अंबी निंग वायससेथो’ में मुख्य भूमिका निभाई।

4- UPENDRA CHANDAN  (उपेंद्र चंदन)

उपेंद्र चंदन (legend of kannada film industry) में एक दिमागी अभिनेता और निर्देशक हैं जिन्होंने अपने अभिनय और निर्देशन से सभी की निगाहें अपनी ओर खींच लीं। उपेंद्र ने अपने करियर की शुरुआत प्रसिद्ध निर्देशक काशीनाथ के अधीन एक लेखक और सहायक निर्देशक के रूप में की थी। उन्होंने अपने निर्देशक करियर की शुरुआत फिल्म ‘थर्ले नान मागा’ से की और फिल्म ‘अनंतना अवंतारा’ से अपने अभिनय की शुरुआत एक गीत ‘कम ऑन कम ऑन कमन्ना’ के माध्यम से की, जो उनके द्वारा लिखा गया था।

उपेंद्र ने अभिनय की तुलना में फिल्मों का निर्देशन किया और ‘ओम’, ‘ऑपरेशन अंत’, ‘ए’, ‘उपेंद्र’ और अन्य फिल्मों जैसी बेहतरीन फिल्मों का निर्देशन किया। उन्होंने कॉमेडी, साइकोलॉजिकल, थ्रिलर और हॉरर जैसी सभी शैलियों की खोज की है।

फिल्म ‘उपेंद्र’, ‘हॉलीवुड’, ‘रक्त कन्नेरू’, ‘बुधिवंता’ और अन्य फिल्मों में उनका अभिनय। वह एक बहुभाषी अभिनेता भी हैं जिन्होंने तमिल और तेलुगु में अभिनय किया है और उन्हें पहचान मिली है। उन्होंने रिचमैन, विदेशी, भिखारी, मानसिक, होशियार जैसे किरदार निभाए हैं। उन्हें फिल्म बनाने में उनकी भूमिकाओं के लिए एक उदाहरण दिया गया है, और वह उन सफल अभिनेता और निर्देशकों में से एक हैं जिन्होंने अपने करियर में कुछ फ्लॉप फिल्में देखी हैं।

5- PUNEET RAJKUMAR (पुनीत राजकुमार)

पुनीत राजकुमार एक सफल और प्रसिद्ध अभिनेता डॉ. राजकुमार के पुत्र हैं, जिन्हें अपने पिता की फिल्म में बाल कलाकार के रूप में अभिनय करने का अवसर मिलता है। उन्होंने एक बाल कलाकार के रूप में अपना करियर शुरू किया और फिल्म ‘बेट्टाडा हूवू’ के लिए सर्वश्रेष्ठ बाल कलाकार का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता। वह अपने पिता की प्रसिद्धि पर निर्भर नहीं था और उसने खुद को साबित किया और सफल हुआ। 

उन्होंने 2002 में फिल्म ‘अप्पू’ से अपनी शुरुआत की और एक छात्र की भूमिका निभाई और यह एक ब्लॉकबस्टर हिट बन गई। वह न केवल एक अभिनेता हैं, बल्कि एक पार्श्व गायक, निर्माता और एंकर भी हैं। उन्हें अपने करियर में 100% सफलता मिली है। वह उन बेहतरीन डांसरों में से एक हैं, जिन पर हर कोई ध्यान देगा।

Top Kannad Female Legends Actress (टॉप कन्नड़ फिल्म फीमेल अभिनेत्री)

1-  Kalpana (कल्पना )

कल्पना (legend of kannada film industry) 60 और 70 के दशक की पसंदीदा और सफल अभिनेत्रियों में से एक हैं, उन्हें कन्नड़ फिल्म उद्योग में मिनुगु तारे (शाइनिंग स्टार) के रूप में जाना जाता था। कल्पना की उस समय प्रसिद्ध अभिनेताओं की तुलना में अधिक प्रशंसक थे, वह फिल्मों में अपने अभिनय के लिए जानी जाती थीं। 

कल्पना ने 1963 में फिल्म ‘साकू मगलू’ से अपनी शुरुआत की और एक प्रसिद्ध अभिनेता बन गईं। उन्होंने कन्नड़, तमिल, तेलुगु, तुलु और मलयालम में काम किया है और कई पुरस्कार जीते हैं। बेली मोडा, हनीले चिगुरिडागा, शारापंजारा, याव जन्मदा मैत्री, अनुराग बंधन, और अन्य फिल्में उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ फिल्में हैं।

2- Manjula मंजुला

मंजुला (legend of kannada film industry) कन्नड़ फिल्म उद्योग की सबसे सफल अभिनेत्रियों में से एक हैं। वह 70 और 80 के दशक में बहु-भाषा अभिनेत्रियाँ भी हैं, उन्होंने कन्नड़, तेलुगु और तमिल में अभिनय किया। मंजुला ने 1966 में फिल्म ‘माने कट्टी नोडु’ से अपनी शुरुआत की, और 1972 में फिल्म ‘यारा साक्षी’ से मुख्य भूमिका निभाई और उन्होंने अपने करियर में 100 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया, जो कम फ्लॉप रही। 

उन्हें राजकुमार, विष्णुवर्धन, शंकर नाग और अन्य अभिनेताओं जैसे सितारों के साथ अभिनय करने का श्रेय है। दीपा, सिंगापुरनल्ली राजा कुल्ला, कलिंग सरपा, गुरु शिष्यारू, मूरोवरे वज्रगलु और अन्य फिल्में उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ फिल्में हैं।